फ्री NCERT class कैसे करे? संपूर्ण ncert class ( geography class 6 chepter 4)

Geography class 6 chepter 4 मानचित्र का सभी नोट्स

हेलो दोस्तों स्वागत है आपके अपने website upscshivshankar.com पर किस website पर बहुत सारा upsc के बारे में ज्ञान और संपूर्ण ncert यानी class 6 से 12वीं class तक सभी विषय की NCERT का नोट्स मिल जाएगा| अभी ncert का शुरुआत ही किया है और class 6 का geography start यह है जिसमें पहला दूसरा और तीसरा chepter खत्म हो चुका है और आज इसमें हम लोग 6 class के geography का चौथा ((4) chapter जानने का प्रयास करेंगे।

इस अध्याय में मानचित्र के बारे में जानेंगे और मानचित्र के अंदर कितने मानचित्र भी आते हैं उनके बारे में भी विस्तार से जानेंगे जैसे मानचित्र में भौतिक मानचित्र , राजनीतिक मानचित्र , थिमैटिक मानचित्र एवं खाक मानचित्र।

मानचित्र

  • भौतिक मानचित्र
  • राजनीतिक मानचित्र
  • थिमैटिक मानचित्र

भौतिक मानचित्र

भौतिक मानचित्र पर पृथ्वी की प्राकृतिक आकृतियों जैसे –पर्वतों, पठारों ,मैदानों, नदियों, महासागरों इत्यादि को दर्शाने वाले मानचित्र को भौतिक मानचित्र कहते हैं और एक बात ध्यान देने योग्य यह है कि इन्हीं भौतिक मानचित्र को उच्चावच मानचित्र भी कहा जाता है।

राजनीतिक मानचित्र

राजनीतिक मानचित्र जैसे नाम से ही पता चलता है इसमें कुछ राजनीतिक यानी गांव घर से रिलेटेड या कोई राजनगर से रिलेटेड जिला से रिलेटेड रहेगा तो राजनीतिक मानचित्र में राज्यों, नगरों, शहरों तथा गांवों और विश्व के विभिन्न देशों व राज्यों तथा उनकी सीमा को दर्शाने वाले मानचित्र को राजनीतिक मानचित्र कहा जाता है।

थिमैटिक मानचित्र

थिमैटिक मानचित्र में सड़क मानचित्र वर्षा मानचित्र 1 तथा उद्योग आदि के विवरण दर्शाने वाले मानचित्र इत्यादि इस प्रकार के मानचित्र को थिमैटिक मानचित्र कहा जाता है। इन सभी के साथ एक मानचित्र और है जो है खाका मानचित्र जो कि वह एक छोटे क्षेत्र का बड़े पैमाने पर खींचा गया रेखाचित्र होता है। और इन सभी मानचित्र के साथ 3 घटक होता है जो निम्न है–

  • दूरी
  • दिशा
  • प्रतीक

दूरी

मानचित्र पर 5 सेंटीमीटर स्थल के 500 किलोमीटर को दर्शाता है इसको छोटे पैमाने वाला मानचित्र कहते हैं। और स्थल पर 500 मीटर की दूरी को मानचित्र पर 5 सेंटीमीटर से दर्शाया जाता है इस प्रकार के मानचित्र को बड़े पैमाने वाला मानचित्र कहते हैं बड़े पैमाने वाला मानचित्र छोटे पैमाने वाले मानचित्र की अपेक्षा अधिक जानकारी प्रदान करते हैं।

दिशा

बहुत से मानचित्र में ऊपर की ओर एक तीर दर्शाया जाता है जिसे उत्तर दिशा कहते हैं और अगर आप उत्तर दिशा जान जाते हैं तो शेष दिशा जैसे पूर्व पश्चिम तथा दक्षिण के बारे में पता लगा सकते हैं।

प्रतीक

यह किसी भी मानचित्र का तीसरा प्रमुख घटक है। मानचित्र की एक विश्वव्यापी भाषा होती है।

निष्कर्ष

इस मानचित्र के अध्याय में आप लोग बहुत कुछ सीखे होंगे जैसे की मानचित्र का प्रकार कौन-कौन से मानचित्र का पॉइंट महत्व है साथ ही साथ दिशा के बारे में जाने हैं और उसके साथ ही साथ प्रतीक के बारे में भी जानकारी आपको मिला और आगे इसी तरह से देखने के लिए हमारे इस website upscshivshankar.com को फॉलो करें और आगे बढ़ते रहें।

BY E.r SHIVSHANKAR YADAV
BY E.r SHIVSHANKAR YADAV
Articles: 6

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *